Home > पश्चिम उ० प्र० > आर्थिक तंगी नहीं घरेलु कलह से की थी आत्महत्या ; घर में पड़ा है 12 कुंतल से अधिक अनाज

आर्थिक तंगी नहीं घरेलु कलह से की थी आत्महत्या ; घर में पड़ा है 12 कुंतल से अधिक अनाज

मीडियाकर्मी ने दिया था मुआवजे का लालच
प्रदीप पुण्डीर
सिकंदराराऊ|तहसील के क़स्बा पुरदिलनगर में जलेसर रोड पर शुक्रवार को जिस युवक ने आत्महत्या की थी उसकी वजह आर्थिक तंगी नहीं अपितु पारिवारिक कलह थी|मीडियाकर्मी ने उसे मुआवजे का लालच दे कर लॉक डाउन में आर्थिक तंगी का बयान देने के लिए उकसाया था|उसने मृतक की पत्नी को ऐसा बयान देने के लिया कहा था|उपजिलाधिकारी विजय शर्मा ने बताया कि शुक्रवार को पुरदिलनगर कस्बे के युवक प्रमोद कुमार ने घरेलू कलह की वजह से आत्महत्या कर ली थी जिसकी कवरेज के लिए सिकंदराराऊ से एक मीडियाकर्मी पंहुचा|उसने मृतक की पत्नी को मुआवजे का लालच देकर आत्महत्या की वजह लॉक डाउन से आर्थिक तंगी होने का बयान देने को कहा| जबकि मृतक के घर पर १२ कुंतल से अधिक गेहूं अभी भी मौजूद है | मृतक लकड़ी का व्यवसाय भी करता था|उसने अभी पिछले महीने एक नया ट्रेक्टर भी खरीदा था|जबकि इसी माह प्रमोद ने राशन डीलर के यहाँ से राशन व् प्रधानमंत्री की ओर से आये 500 रुपये भी बैंक से निकाले थे|मृतक के भाई मुकेश कुमार ने बताया की घर में किसी भी तरह की कोई भी आर्थिक परेशानी नहीं थी|परिवार में ३ प्लाट भी है|सभी भाई एक साथ मिलकर रहते है|दरअसल मामले की पोल तब खुली जब कर्मयोग सेवा संघ के अध्यक्ष विवेकशील राघव को जब इसका पता चला की उनके पड़ोस में इस तरह की कोई वारदात हुयी है|उनकी टीम लॉक डाउन के पहले दिन से गरीबों और लाचारों को खाना प्रदान कर रही है|जब वो अपनी टीम के साथ पुरदिलनगर पहुंचे तो वहां सच कुछ और ही था|उन्होंने इसकी जानकारी जिला प्रशासन को दी|तब जाकर सच सामने आया|आखिर ये मिडिया कर्मी है कोन हैं जिसने सूचना के सही तथ्यों को छुपा कर शासन प्रशासन और कानून की आँखों में धूल झोकने काप्रयास किया है ? इस मीडिया कर्मी का अभी तक नाम सामने क्यों नहीं आ रहा है और उसके खिलफ अभी तक कोई कार्य वही क्यों नहीं की गयी है|देखना अब यह है की पुलिस प्रशासन इस प्रकरण को किस नजर से देखता हैं ? इस सम्बन्ध में कोई कारवाही करता है या नहीं|
बाईट:- मृतक का नाम प्रमोद है और उसने आत्महत्या घरेलु कलह से की थी | परिवार में आर्थिक परेशानी नहीं है | – विजय शर्मा उपजिलाधिकारी सिकंदराराऊ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *